MBBS Full Form | MBBS Course क्या है और कैसे करें? पूरी जानकारी 2021

दोस्तों, बहुत सारे students का सपना डॉक्टर बनने का होता है, लेकिन उनको पता नहीं होता है कि डॉक्टर कैसे बनते हैं? डॉक्टर बनने के लिए कौन सा course करना पड़ता है? इसके लिए Qualification क्या होनी चाहिए? इसलिए आज मै आपको MBBS Course के बारे में बताने वाला हूँ। क्योंकि हमारे देश में जो लोग भी डॉक्टर बनने की इच्छा रखते हैं, उनमे से ज्यादातर लोग MBBS Doctor बनना चाहते हैं। 

MBBS Course क्या है और कैसे करें? MBBS Full Form और पूरी जानकारी

MBBS Full Form | MBBS Course क्या है और कैसे करें? पूरी जानकारी 2021

{tocify} $title={Table of Contents}

अगर आप भी एक अच्छा Doctor बनकर समाज की सेवा करना चाहते हैं, तो आपको निश्चित रूप से यह पता होना चाहिए कि MBBS Course Kya Hai?, MBBS का Full Form (Full Form ऑफ MBBS) क्या है?, इस कोर्स के दौरान Students क्या सीखते-पढ़ते हैं?, MBBS Course की Fees कितनी होती है?, एमबीबीएस कोर्स करने के लिए एजुकेशन क्वॉलिफिकेशन्स क्या होनी चाहिए?, MBBS Course किसको करना चाहिए और MBBS Course कैसे करें? तो कुल मिलाकर MBBS की पूरी जानकारी मै आपको आज के इस आर्टिकल में देने वाला हूँ।

दोस्तों, अगर आपने इस आर्टिकल को अंत-तक पूरा पढ़ लिया तो आपके मन में MBBS Course से संबंधित किसी भी तरह का कोई Doubts (संदेह) नहीं रहेगा। इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें, तो चलिए शुरू करते हैं।

MBBS का Full Form क्या है। 

दोस्तों, MBBS का पूरा नाम Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery होता है। जिसे हिन्दी में आयुर्विज्ञान तथा शल्य चिकित्सा स्नातक कहते हैं। 

MBBS - Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery

 

MBBS Course क्या है?

MBBS एक ऐसा Course है, जिसे करने के बाद आप एक अच्छा डॉक्टर बन सकते हैं। सबसे ज्यादा लोग जो डॉक्टर बनते हैं, उनके पास MBBS की ही डिग्री होती है। मेडिकल क्षेत्र में MBBS Degree को सबसे महत्त्वपूर्ण माना जाता है। यह एक under graduate डिग्री है जो आपको मरीजों का इलाज कर सकने की क्षमता और अनुमति प्रदान करती है।

MBBS Course करने में 4 साल 6 महीने का समय लगता है। इस के बाद 1 साल की Internship भी की जाती है। जिसके बाद यह Course 5 साल 6 महीने का हो जाता है। जिसके दौरान आपको मानव शरीर कैसे काम करती है? इसके बारे में सब कुछ बताया जाता है और मानव शरीर में होने वाली बिमारियों और उनके इलाज के बारे में भी पढ़ाया जाता है। इसके साथ ही शरीर से सम्बंधित Pharmacology, Pathology, Community Health और Child Therapy का अध्यन कराया जाता है। इस कोर्स को करने के बाद आप किसी सरकारी या Private Hospital में अच्छी नौकरी पा सकते हैं।

MBBS Course में क्या पढ़ाया जाता है?

MBBS, मेडिकल का एक ऐसा कोर्स है, जिसके दौरान Students मानव शरीर में होने वाली बिमारियों और उसके इलाज के बारे में सीखते हैं और मानव शरीर की संरचना के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करते हैं और उसके बाद शरीर में होने वाली अलग-अलग बिमारियों के बारे में भी पढ़ते हैं। 

इस कोर्स को कुछ इस तरह से डिजाइन किया गया है कि आप एक मानव शरीर के बारे में सब कुछ पढ़ते हैं जैसे कि गर्भ धारण से लेकर बच्चे के जन्म होने और उसके व्यस्क होने और फिर बूढ़े होने के बारे में सब कुछ।

आसान शब्दों में कहें तो MBBS Course के दौरान आपको मानव शरीर के शुरआत होने से अंत होने के बारे में सब कुछ पढ़ाया जाता है। किसी भी इंसान के जन्म लेने के समय से उसे सही देख-भाल की जरुरत होती है। बहुत सारी बिमारियों से बचाव के लिए सही इलाज और जानकारी की जरुरत होती है। कभी किसी तरह की चोट लग जाने या बीमारी हो जाने पर सही इलाज की जरुरत होती है ताकि उस व्यक्ति का शरीर फिर से सही ढंग से काम कर सके और ये सब काम एक डॉक्टर के द्वारा किया जाता है जोकि यह कला MBBS Course के दौरान सीखता है। इस Course के दौरान Practical पर ज्यादा जोर दिया जाता है ताकि students किसी भी बीमारी और लक्षण को सही ढंग से समझ सके।

MBBS Course की Fees कितनी होती है?

भारत में MBBS Course के लिए अलग-अलग कॉलेज का fee structure अलग-अलग होता है। जहाँ सरकारी मेडिकल college की fee कम होती हैं, वहीं प्राइवेट मेडिकल कॉलेजेस की fee बहुत अधिक होती है। सरकारी मेडिकल कॉलेज की फीस 10 हजार रूपये सालाना से लेकर 50 हजार रूपये सालाना तक हो सकती है। वहीं एक प्राइवेट मेडिकल कॉलेज की फीस 10 लाख रूपये सालाना से लेकर 25 लाख रूपये सालाना तक हो सकती है। इसलिए आपको कोशिश करनी चाहिए की entrance exam में अच्छा स्कोर प्राप्त करके किसी सरकारी मेडिकल कॉलेज में एडमिशन ले लें ताकि कम खर्च में MBBS की Degree प्राप्त हो सके।

एमबीबीएस कोर्स करने के लिए Eligibility Criteria

👉 शैक्षणिक योग्यता (Education Qualification)

कैंडिडेट 12th क्लास Science Subject से कम से कम 50% मार्क्स के साथ पास होना चाहिए, जिसमे Physics, Chemistry और मुख्य विषय Biology होना चाहिए। अगर आप एससी/एसटी/ओबीसी केटेगरी के कैंडिडेट हैं, तो आपके लिए 40% मार्क्स निर्धारित किया गया है।

👉 आयु सीमा (Age Limit)

MBBS Course करने के लिए कैंडिडेट की उम्र 17 से 25 साल के बीच होनी चाहिए।

MBBS Course कैसे करें?

एमबीबीएस कोर्स करने के लिए सबसे पहले आपको अपनी एजुकेशन क्वॉलिफिकेशन्स पूरी करनी होगी, जिसमे आप 12th क्लास साइंस सब्जेक्ट से पास होने चाहिए, वो भी 50% मार्क्स के साथ। उसके बाद आपको Medical Entrance Exam NEET की परीक्षा को पास करना होगा।

NEET Exam एक ऑफलाइन एग्जाम है। इसमें Multiple Choice Question दिए जाते हैं। यह प्रश्न 3 विषयों Physics, Chemistry और Biology से पूछे जाते हैं जोकि 11th और 12th class से ही संबंधित होते हैं। तो अगर आप अभी 11th या 12th क्लास में हैं और आपने साइंस सब्जेक्ट लिया है, जिसमे मुख्य विषय Biology है, और आपको एक MBBS doctor बनने का सपना है तो ध्यान से और मन लगाकर पढ़ें। 

NEET Exam के पूरे पेपर में 180 प्रश्न पूछे जाते हैं। इसमें physics और chemistry के 45-45 प्रश्न होते हैं और biology के 90 प्रश्न होते हैं। पूरे पेपर को हल करने के लिए 180 मिनट का समय दिया जाता है। नीट एग्जाम के पेपर में सही उत्तर देने पर 4 नंबर दिए जाते हैं और गलत उत्तर देने पर 1 नंबर काट लिया जाता है।

नीट एग्जाम का आयोजन पूरे देश भर में किया जाता है। इसे 11 भाषाओं इंग्लिश, हिन्दी, तमिल, असमी, उड़िया, कन्नड़, बंगाली, गुजरती, मराठी, उर्दू और तेलुगु में आयोजित किया जाता है। जो लोग NEET Exam मे सफल हो जाते हैं, उन्हें उनकी रैंक के हिसाब से देश के सरकारी मेडिकल कॉलेज या प्राइवेट मेडिकल कॉलेज में MBBS के लिए एडमिशन दे दिया जाता है।

एमबीबीएस कोर्स किसको करना चाहिए?

वैसे Students जिनका इंटरेस्ट डॉक्टर बनने और डॉक्टर बनकर लोगों का इलाज करने और लोगों की मदद करने में है, उनको यह कोर्स करना चाहिए। क्योंकि यह 5 साल का एक लम्बा कोर्स है। जिसको अच्छे से पूरा कर अपने करियर में अच्छा करने के लिए इसमें इंटरेस्ट का होना बहुत जरुरी होता है। 

अगर आपको लगता है कि आप मरीज को समझ पाएंगे और उनका सही इलाज कर पाएंगे, तो आपको MBBS Course जरूर करना चाहिए। क्योंकि हमारे समाज मे डॉक्टर को भगवान का दर्जा दिया जाता है और अगर आपने यह कोर्स पूरे इंटरेस्ट के साथ नहीं किया तो आप सही इलाज नहीं कर पाएंगे। इसलिए जरुरी है कि वह स्टूडेंट्स ही इस कोर्स को करें, जिनको medical field में रुचि हो।

एक अच्छा डॉक्टर बनने के लिए जो स्टूडेंट्स MBBS Course करने के बारे में सोच रहे हैं, उनमे कुछ विशेषताओं का होना जरुरी होता है। जैसे – मददगार स्वाभाव का होना, अच्छी सहन शक्ति होना, हर समय मानसिक सतर्कता का होना, धैर्य और करुणा का होना, सीखने की ललक होना और किसी भी टीम के साथ काम करने की क्षमता होना।

MBBS Course करने के बाद सैलरी कितनी मिलती है?

दोस्तों, MBBS Course करने के बाद आप एक अच्छी नौकरी के साथ-साथ अच्छी सैलरी भी पा सकते हैं। अगर आप किसी सरकारी हॉस्पिटल या किसी सरकारी विभाग में नौकरी पाते हैं, तो आपकी शुरुआती सैलरी 70 हजार रूपये से लेकर 1 लाख रूपये महीना तक हो सकती है। वहीं प्राइवेट सेक्टर में भी आपको 1 लाख रूपये महीना आसानी से मिल सकता है। बहुत सारे लोग MBBS Course करने के बाद अपना खुद का हॉस्पिटल या नर्सिंग होम शुरू करते हैं और वो भी बहुत अच्छा पैसा कमाते हैं। औसतन शुरुआत में नर्सिंग होम से एक डॉक्टर 1 से 2 लाख रूपये महीना आसानी से कमा लेता है। इतना ही नही, बहुत सारे लोग MBBS Course पूरा करने के बाद किसी दूसरे देश जैसे कि अमेरिका या इंग्लैंड चले जाते हैं और वो वहां पर बहुत अच्छा पैसा कमाते हैं।

इसे भी पढ़ें।






निष्कर्ष (Conclusion)

दोस्तों, इस आर्टिकल के माध्यम से अब आप जान चुके हैं कि MBBS Course Kya Hai?, MBBS का Full Form क्या है?, MBBS Course किसको करना चाहिए और कैसे करें? इस आर्टिकल के बारे में आपका क्या कहना है? यह जानकारी आपको कैसी लगी? कमेंट बॉक्स में लिखकर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें। जानकारी अच्छी अच्छी लगी हो, तो इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि बाकी लोगों तक भी यह महत्त्वपूर्ण जानकारी पहुँच सके, धन्यवाद।

Post a Comment

Previous Post Next Post