Top 3+ Motivational Speech For Students in Hindi | Hindi Motivational Speech for Students


Motivational Speech For Students in Hindi: Hello friends, how are you? Today I am sharing top 3+ Hindi Motivational Speech for Students. These Hindi motivational Speeches are very valuable. 


दोस्तों आज के इस article मे मै आपके साथ share करने वाला हूँ top 3+ motivational speech for students in Hindi. यह सभी प्रेरणादायक speech students के लिए हैं। जो उन्हे पढाई मे प्रेरित करेगी। 


दोस्तों जब आप संघर्ष कर रहे होते हैं तो संघर्ष के रास्ते मे बहुत सारे उतार चढ़ाव आते रहते हैं। और इसी क्रम मे जब आपका होसला टूटने लगता है तो जरूरत होती है कोई ऐसे की जो आपको फिर से bounce back करने के लिए प्रेरित कर सके। 



इसलिए आज के इस article "top 3+ motivational speech for student in hindi" मे हम लेकर आएं हैं 3 ऐसे hindi motivational speech for students जो आपको bounce back करने मे मदद करेगी और  आपके लक्ष्य को पाने के लिए संघर्ष के रास्ते को आसान और सरल बनायेगी।


ये Motivational speech आप के अन्दर एक ताकत उत्पन्न करेगी जो आपके लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हमेशा आपको प्रेरित करती रहेगी।


तो दोस्तों तैयार हो जाईये इन top motivational speech in hindi for students को पढ़ने के लिए। 


लेकिन पढ़ने से पहले नीचे एक video है। अगर आप चाहे तो इस motivational speech for students in hindi को video के रूप मे देख सकते हैं। ये hindi motivational speech बहुत ही प्रेरणादायक है।




दोस्तों आईये अब इन best motivational speech for students in hindi को पढ़ते हैं।


3+ Best Motivational Speechs for Students in Hindi


Best Motivational Speech For Students in Hindi | Hindi Motivational Speech
Motivational Speech For Students in hindi


#1. 1st Motivational Speech for Students in Hindi


लोग अक्सर अपनी झूठी तारीफ सुनकर बर्बाद हो जाना पसंद करते हैं क्योंकि अपनी असलियत सुनने का जिगर हर किसी के पास नहीं होता है। 


जिंदगी मे अगर आगे बढ़ना है तो कभी निर्भर मत रहना गैरों पर! 

क्योंकि मंजिल उन्हीं को मिलती है जो खड़े होते हैं अपने पैरों पर!!


कभी उनकी बातों पर ध्यान मत देना जो पीठ पीछे बातें करते हैं। क्योंकि इसका मतलब यह है की आप अभी भी उस से दो कदम आगे हैं। 


किसी ने क्या खूब कहा है, खुद पर भरोसा करने का हुनर सीख लो, क्योंकि सहारे कितने भी अच्छे हो एक ना एक दिन वह साथ छोड़ ही देते हैं। 


चाहे परिस्थिति कैसी भी हो हमेशा इतने खुश रहो कि गम भी सोचे, यह मैं कहां आ गया। 


दोस्तों यह बात हमेशा याद रखना, 


ये मंजिले बड़ी जिद्दी होती हैं! 

हासिल कहां नसीब से होती हैं!! 

मगर वहां तूफान भी हार जाते हैं 

जहां कश्तीयाँ जिद पर होती है !!! 


यूं असर डाला है मतलब प्रस्तुति ने दुनिया पर 

की हाल भी पूछो तो लोग समझते हैं जरूर कोई काम होगा। 


जरूरी नहीं है की कुछ तोड़ने के लिए पत्थर ही मारा जाए! 

लहजा बदल कर बोलने से भी बहुत कुछ टूट जाता है!! 


झूठा अपनापन तो हर कोई जताता है 

वह अपना ही क्या जो पल पल सताता है 

यकीन ना करना हर किसी पर क्योंकि 

करीब कितना है कोई यह तो वक्त बताता है 


दोस्तों उस मनुष्य की ताकत का कोई मुकाबला नहीं कर सकता, जिसके पास सब्र की ताकत है। 


और आज अगर तुम अकेले हो तो यह बात याद कर लेना की


संघर्ष में आदमी अकेला ही होता है 

सफलता में पूरी दुनियां उसके साथ होती है 

जिस-जिस पर यह जग हंसा है 

हमेशा उसी ने इतिहास रचा है 


पानी को बर्फ में बदलने में वक्त लगता है 

ढ़ले हुए सूरज को निकलने में वक्त लगता है 

थोड़ा धीरज रख, थोड़ा और जोर लगाता रह

किस्मत के जंग लगे दरवाजे को खोलने में थोड़ा वक्त लगता है । 


कुछ देर रुकने के बाद फिर से चल पड़ना ऐ दोस्त

क्योंकि हर ठोकर के बाद संभलने में वक्त लगता है। 


बिखरे की फिर वही चमक तेरे वजूद से तू महसूस करना!



#2. 2nd Motivational Speech for Students in Hindi


जो इंसान संघर्ष से परिचित नहीं होता, वह कभी इस जहान में चर्चित नहीं होता। संघर्ष करने का समय आ गया है। रात भर जाग कर पढ़ने का समय आ गया है। 


जो होना था, वह हो गया। जो समय बर्बाद किया वह सब खो गया। लेकिन अभी भी थोड़ी सी बाकी है मोहलत, सब ठीक हो सकता है अगर तू कर ले थोड़ी सी मेहनत। 


अभी भी नहीं जागा तो बहुत देर हो जाएगी। तेरी जिंदगी गुमनामी में कहीं खो जाएगी। 


सच को स्वीकार लो, यही असली ज्ञान है। 

जो अपनी मेहनत से कुछ कर दिखाएं वही तो महान है। 


सपने मत देखो लक्ष्य बनाओ। पढ़ाई में मेहनत के आगे जब हर चीज फीकी लगने लगे, रात में नींद ना आए और सुबह की नींद तोड़कर तू उठने लगे तो समझ लेना तुम तैयार हो। 


सुबह के नाश्ते और रात के खाने की फिकर ना लगे, अनजान सी ये किताब जब दोस्त लगने लगे तो समझ लेना तुम तैयार हो! 


तुम तैयार हो और तुम्हारा समय आने वाला है! 

जब तुम्हारे पीछे यह सारा जमाना चलने वाला है!! 


सपने तो सब देख लेते हैं लेकिन पूरे नहीं कर पाते! हार जाते हैं कुछ लोग क्योंकि वह खुद से जीत नहीं पाते!!


अगर कुछ कर दिखाना है तो नींद चैन को त्यागने का इरादा करो! 

जितना सोचते हो कोशिश उससे ज्यादा करो!!

हार नहीं मानोगे कभी खुद से यह वादा करो!!!


क्या तुम नहीं चाहते कि जब तुम टॉप करो तो तुम्हारे मां-बाप की आंखों में खुशी के आंसू आ जाए। तुम नहीं चाहते कि जब तुम जिंदगी में कुछ बड़ा हासिल करो, तो अपने मां-बाप के उन अधूरे सपनों को पूरा कर पाओ, जो शायद उन्होंने तुम्हारी तरक्की के लिए त्याग दिए थे। 


जब भी मन में ये विचार आए की आज तो मैंने बहुत पढ़ लिया, आज के लिए इतना ही काफी है, अब सो जाता हूं। तो याद कर लेना, तुम्हारी यही सोच तुमको जिंदगी में बहुत पीछे ले जाएगी। 


अपने मन से कहो, ज्यादा खुश होने की जरूरत नहीं है। अभी बहुत कुछ करना बाकी है, अभी और पढ़ना बाकी है। 


अपनी जिंदगी के लिए कुछ अच्छा और कुछ बड़ा सपना तो सोचा होगा और यह भी जानते होंगे कि सपने देखने से मात्र सपने सच नहीं होते हैं, बल्कि उन्हीं के लिए दिन रात खुद से जंग लड़नी पड़ती है। 


अपनी बुरी आदतों को बदलना पड़ता है। क्योंकि अगर आपने अपनी बुरी आदतों को नहीं बदला तो यह आदतें आपका वक्त बदल देती है। और आपको वह दिन देखने पड़ते हैं, जिसकी आपने कभी कल्पना भी नहीं की होती है। 


सबसे बुरी आदत है, आपका यह सोचना के आज के लिए बस इतना ही काफी है। अरे दोस्त इतना काफी नहीं है! दोस्त इतना काफी नहीं है!!


तुम्हारी जिंदगी का मकसद पूरा करने के लिए इतनी मेहनत काफी नहीं है। खोलो इन किताबों को, इन में अपना सुनहरा भविष्य देख लो। 


तुम्हारे हर सवाल का जवाब, तुम्हारी बंद किस्मत की चाबी इन किताबों में है। और जिस दिन तुमको यह बात समझ में आ गई तो याद रख लो कभी पढ़ते समय नींद नहीं आएगी। 


अभी तक कही गई बातें समझ में आ गई है तो एक बार फिर से खुद को याद दिलाओ की तुम क्या बनना चाहते हो। क्या हासिल करना चाहते हो, और पूछो खुद से कि जितनी मेहनत अभी कर रहे हो, क्या वह काफी है? 


सच कहूँ तो जवाब ना ही आएगा और इस ना को हाँ में बदलना तुम्हारा काम है। मेरा काम था तुमको याद दिलाना जो मैंने कर दिया। मैं मोटिवेट करता रहूंगा, तुम मेहनत करते रहना। लेकिन बस इतना याद रखना जब तक सिग्नेचर ऑटोग्राफ ना बन जाए तब तक रुकना मत। 



#3. 3rd Motivational Speech for Students in Hindi


जब किसी स्पेस शटल को अंतरिक्ष के लिए लांच किया जाता है तो उसके लॉन्च के बाद अंतरिक्ष में कदम रखने में मात्र 10 मिनट का समय लग सकता है। लेकिन कोई नहीं जानता कि उसके 10 मिनट की उड़ान के लिए हो सकता है पिछले 10 बरस से भी ज्यादा समय से उसकी तैयारी की जा रही हो। 


इसके लिए दुनिया के best इंजीनियर्स, एस्ट्रोनॉट्स साइंटिस्ट और इनके अलावा भी बहुत सारे लोग दिन रात मेहनत करते हैं। भले ही शटल को gravity पार करने में 10 मिनट का समय लगे दुनिया की करोड़ों नजरें उसकी उड़ान पर होती है। 


इसको बनाने वाले लोगों को पता होता है कि अगर इस बार चूक गए तो बहुत भारी नुकसान हो सकता हैं। कई जाने जा सकती हैं। और तो और फिर शून्य से वही मेहनत स्टार्ट करनी पड़ सकती है। 


वह इस अंजाम को अच्छी तरह जानते हैं। उनके पास कोई ऑप्शन नहीं होता है। जब किसी रनर को 100 मीटर रनिंग का गेम जीतना होता है तो वह उसे जीतने के लिए उसके पहले की प्रैक्टिस सिर्फ 100 मीटर दौड़ के नहीं करता है। 


वह लंबी दूरी दोड़ता है। वह बहुत सारी अलग-अलग एक्सरसाइज करता है। अलग-अलग मौसम में दौड़ता है। थकने के बाद भी दौड़ता है। टूटने के बाद भी दौड़ता है। क्योंकि उसे पता है की वह इसके बिना विजेता नही बन पाएगा।


जब किसी को exam का topper बनना होता है, तो वह सिर्फ एक किताब नही पढ़ता है। वह बहुत सारी किताबें पढ़ता है।


एक मौसम में नहीं पढ़ता है। हर मौसम में पढ़ता है। पढ़ने का मतलब सिर्फ रट्टा मारना नहीं है। पढ़ने का मतलब है ज्ञान हासिल करना। नया सिखना। मन मे जिज्ञासा रखना और हर वक्त आँखों मे एक लक्ष्य रखना कि मैं करूंगा। मुझे करना ही है, मेरे पास और कोई रास्ता नहीं है। 


अब इसको किए बिना मेरी लाइफ का कोई मतलब नहीं है, मेरे पास कोई ऑप्शन नहीं है, मेरे पास कोई दूसरा रास्ता नहीं है। 


जबकि तुम्हारे पास रास्ते हैं। तुम्हारे पास option है अपने time को बर्बाद करने का। मोबाइल पर खुद को व्यस्त रखने का, खुद के सपने खुद ही नष्ट करने का। 


बिना जरूरत rest करने का । उस rest को गहरी नींद में convert करने का, क्योंकि तुम्हें जिम्मेदारी का एहसास नहीं है। 


शटल वाले वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को पता होता है कि उन पर जिम्मेदारी है। करोड़ों की उम्मीदें हैं। देश की बात है। 


जिम्मेदारियां तो तुम पर भी है, लेकिन फर्क यही है कि तुम्हें जिम्मेदारी का एहसास नहीं है। 


तुम पर जिम्मेदारी है अपनी जिंदगी बेहतर ढंग से जीने की। अपने आप को develop करने की और अपने आप को सक्षम बनाने की। लेकिन फिर भी तुम्हें इसका अहसास नही है। क्योंकि तुम खुद से मेहनत करने के लिए demand नही करते हो। 


तुम्हे बदलाव सिर्फ अपने सपनों में ही अच्छा लगता है, हकीकत में नहीं। वैज्ञानिकों के पास एक chance होता है। पर तुम्हारे पास chance की कोई कमी नहीं है। 


तुम उम्र भर कंपटीशन की तैयारी कर सकते हो, क्योंकि तुम्हारी सफलता की सच्ची उम्मीद करने वाली सिर्फ 8-10 आंखें ही हैं। जहां स्पेस शटल की सफलता को देखने के लिए करोड़ों आंखें होती है, वहीं पर तुम्हारी सफलता की सच्ची उम्मीद करने वाली सिर्फ 8-10 आंखें ही है। जिनमे चार आंखें तुम्हारे लाचार मां बाप की है। जिनकी आँखें तुम्हें हमेशा पढ़ता हुआ ही देखती है। जिनको कभी तुम्हारा behind the seen दिखता ही नहीं है। 


बाकी दो चार कोई खास इंसान और होंगे, जो तुम्हें सफल देखना चाहते हैं। पर इस जिम्मेदारी को तुम skip कर देते हो। उनमे से कोई कुछ बोले तो उनको झूठे प्रॉमिस कर देते हो। ज्यादा कोई बोले तो negative reaction दे देते हो। 


जानते हो कि तुम एग्जाम में फेल भी हो गए तो भी पहले का पढ़ा हुआ तो तुम्हारे दिमाग में रहेगा ही। Space मिशन की तरह zero से शुरू नहीं करना।तुम जानते हो की fail होने से किसी की जान नहीं जाने वाली है। 


जिस दिन जिम्मेदारी का एहसास होगा ऊपर वाले से बोलोगे कि मुझे दिन के 100 घंटे चाहिए, मैं दिन में 100 घंटे मेहनत करना चाहता हूं और अब तुम्हारे लिए 20 घंटे मेहनत करना बाएं हाथ का खेल होगा। 


तुम्हें अपने लिए चांसेस की एक लिमिट तय करनी होगी की इस बार तो करना है इसे। तब तुम्हे एहसास होगा कि अगर तुम इस बार नहीं कर पाए तो तुम्हारा शटल क्रैश हो जाएगा। फिर कई साल मेहनत करनी होगी और zero से स्टार्ट करना होगा। 


कई लोगों का दिल टूटेगा, खुद को कोसते रहोगे कि वक्त था, किताबें थी, बस दिल और दिमाग जोड़ना बाकी था, जोड़ लेता तो आज इस 3 घंटे के exam का नतीजा पूरी दुनिया देखती। 


लेकिन इसके लिए तुम्हें runner की तरह 10 गुना ज्यादा मेहनत करनी होगी। स्पेस शटल की तरह एकदम एक्यूरेट प्लानिंग करनी होगी। तुम्हें वक्त की कदर करनी होगी। वक्त की कदर करोगे तो वह तुम्हारा लेवल उपर कर देगा। 


तो अब देर किस बात की, रॉकेट वाला मोटिवेशन लाओ अपने अंदर, runner वाला जुनून लाओ अपने अंदर, topper वाली जिम्मेदारी लाओ अपने अंदर। और पूरी मेहनत करो और सफल बन जाओ।



दोस्तों ये थी 3 best motivational speech for students in hindi. आपको इनमे से कौन सा hindi motivational speech सबसे अधिक प्रेरित किया हमे कॉमेंट मे जरूर बताईये। और अब बैठिये नही अपने सपनों को पंख देने के लिए लग जाईये। अगर आप को यह motivational speech for students in hindi पसंद आया तो इसे आगे अपने दोस्तों से जरूर share कीजिए, ताकि वह भी इसका लाभ उठा सकें और इन Hindi motivational speech for students से प्रेरणा लेकर जिंदगी मे सफल बन सकें। 


3 best motivational speech for students in hindi पढ़ने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद! 


2 Comments

Post a Comment

Previous Post Next Post